डायबिटीज क्या है।डायबिटीज होने के लक्षण|डायबिटीज से बचने के सबसे अच्छा उपाय 2021

डायबिटीज क्या है।डायबिटीज होने के लक्षण|डायबिटीज से बचने के सबसे अच्छा उपाय 2021

डायबिटीज क्या है
डायबिटीज क्या है

आज कल के बदलती दुनिया में सबके अंदर मोटापा तथा डायबिटीज का असर देखने को मिलता है। आज के समय में ये दो सबसे बड़ी स्वस्थ समस्याएं देखने को मिल रही है। चाहे वह बूढ़ा व्यक्ति हो या नजवान पुरुष सबके अंदर डायबिटीज का खतरा मंडरा रहा है। क्योंकि आज कल के अस्त – व्यस्थ जीवन सैली में गलत खान पान की वजह से ये दोनो बिमारिए हमारे शरीर में संचालित हो रही है। अगर हमको डायबिटीज से बचना है तो सबसे पहले हमारे खान – पान में सुधार के साथ हमारी लाइफस्टाइल में भी सुधार करने की आवश्यकता है।

      डायबिटीज की बीमारियों में देखा जाए तो हमारा ब्लड शुगर का लेबल बढ़ जाता है जिससे शरीर की इन्सुलिन उत्पादन क्षमता प्रभावित होने लगती है। आज हम आपको डायबिटीज को कंट्रोल करने के लिए कुछ ऐसे ही उपाय आपको बताने वाले है जिससे आपके सुधार ला सकता है। या उसको जड़ से समाप्त भी कर सकता है।

डायबिटीज क्या है।

डायबिटीज अर्थात् (मधुमय) शरीर के ग्लूकोज रूपी शर्करा को रक्त के साथ मिलकर शरीर को प्रभावित करती है। हमारे शरीर को ठीक से काम करने के लिए, हमें अपने रक्त में ग्लूकोस को एक साथ स्वस्थ स्तर बनाए रखने की आवश्यकता होती है। हम सब जानते है की ग्लूकोज हमारे शरीर के लिए अत्यंत आवश्यक है। क्योंकि ग्लूकोज ही हमारे शरीर की ऊर्जा का श्रोत बनता है। ये खाए जाने वाले कार्बोहाइड्रेड पदार्थ में पाया जाता है। जैसे की, आनज, फल, स्टार्च को सब्जियां, दूध, दही, चावल, पास्ता, रोटी, गन्ने का जूस इत्यादि। इन सभी कार्बोहाइड्रेड पदार्थो में ग्लूकोज की मात्रा मिलती है। जो की ग्लूकोज रक्त से मिलकर मांसपेशियों के द्वारा आपके पूरे शरीर में पहुंचती है। जहां हमारी कोशिकाएं इसे ऊर्जा में बदल देती है।
डायबिटीज food
डायबिटीज food

डायबिटीज होने के लक्षण:

डायबिटीज तभी संभव है जब आपके शरीर में ग्लूकोज की मात्रा ज्यादा हो। हम आपको कुछ ऐसे प्वाइंट बताने जा रहें है। जिसके वजह से आप डायबिटीज होने की खतरों से बच सकते है।
• हमेशा थका महसूस होना डायबिटीज का लक्षण है।
• अचानक वजन बढ़ना तथा काम होना।
• अधिक भूख या प्यास लगना।
• अधिक पेसाब करना।
• उल्टी का मन होना।
• मुंह सुखना।
• त्वचा संबंधित समस्याएं होना।
• महिलाओं के योनि में अक्सर इन्फेक्शन का खतरा होना।
• आंखो द्वारा काम दिखाई देना
• कोई घाव हो जाने पर अधिक समय में ठीक होना।

Cheack This If you Need :-  link adhar and pan card in Hindi 2021 India

ये सभी समस्याएं आपके शरीर के अंदर होती है। तो आप समझ लीजिए की आपके अंदर डायबिटीज का खतरा मंडरा रहा है। हम आपको डायबिटीज से बचने के लिए कुछ जरूरी चीजों को बताने जा रहे है। जिससे अपने डायबिटीज को कंट्रोल करने के साथ – साथ इसे समाप्त भी कर सकते है।
डायबिटीज food
डायबिटीज food

डायबिटीज से बचने के उपाय:

अगर हम अपने डाइट प्लान तथा जीवनशैली में थोड़ा सुधार करे तो आप इसको घरेलू चीजों में उपयोग होने वाले कुछ पदार्थो से इसे ठीक कर सकते है। जिससे आपके रक्त शर्करा को आसानी से कम किया जा सकता हैं। आपको सबसे पहले खाने वाले सब्जियों में कुछ बदलाव करने की जरूरत है। सब्जियों में आपको करेला, ककड़ी, खीरा, लौकी, तिरोई, शलजम, पालक, मेथी तथा गोभी का सेवन करें। ये सभी प्रकार की सब्जियां आपके डायबिटीज लेबल को कम करने में काफी हद तक शक्षम है। डायबिटीज पेसेंट को आलू और शकरकंद के सेवन से बचना चाहिए।
       इसके अलावा हम आपको कुछ ऐसे पदार्थ खाने के लिए बताने जा रहे है। जिससे आप अपने डायबिटीज को कम कर सके है।
1. तुलसी: डायबिटीज के मरीजों के लिए तुलसी की दो या तीन पत्तियां खाने चाहिए या इन तुलसी के पत्तियों के रस का भी सेवन कर सकते है। क्योंकि तुलसी के पक्तियो में एंटीऑक्सीडेंट और एसेंशियल ऑयल पाया जाता है। जो बॉडी के ब्लड सुगर को घटाने का काम करता है।
2. एलोवेरा: ब्लडप्रेशर को कंट्रोल करने के एलोवेरा भी काफी फायदेमंद माना जाता है। एलोवेरा जो फैक्ट और सुगर को उचित काम करने में सहायता करता है। इसके साथ – साथ डायबिटीज के मरीजों को अलसी के बीज का भी सेवन करना चाहिए। इन दोनो को सही मात्रा में सेवन किया जाए तो यह डायबिटीज को 28 प्रतिशत तक कम कर देती है। आप अलसी के बीज को चूर्ण बनाकर रोज खाली पेट गर्म पानी के साथ सेवन करना चाहिए।
3.आंवला: आंवला के अंदर अधिक मात्रा में विटामिन सी पाया जाता है। आंवला का जूस हृदय के लिए काफी फायदेमंद होती है। जो हृदय के कार्यप्रणाली को नियंत्रित रखती है। इसके साथ ही आप आंवला का चूर्ण भी गर्म पानी के साथ ले सकते गई।
4. करेला: करेला जो की डायबिटीज मरीजों के लिए सबसे ज्यादा फायदेमंद वाली सब्जी होती है। जो रक्त से ग्लूकोज की मात्रा को कम करता है। आप इसे कच्चे भी खा सकते है। या सब्जी बनाकर भी इसका सेवन कर सकते है। करेला ज्यादा फायदेमंद तभी रहेगा जब आप उसे कच्चे खायेंगे ।
डायबिटीज food
डायबिटीज food
5. जामुन: डायबिटीज के मरीजों के लिए जामुन के छाले, फल तथ इनके पत्ते भी काफी हद तक कारगर होते है। जामुन का फल आसानी से मार्केट में मिल जाते है। इसके साथ ही इनके बीजों को सुखाकर इनका चूर्ण बना लें। फिर इसके चूर्ण को कम से कम दिन में 2 बार जरूर इसका सेवन करें। यह आपके डायबिटीज को कम करता है।
  ये हो गई घर में आसानी से मिलने वाली कुछ पदार्थ जिससे आप अपने डायबिटीज को कंट्रोल करने के साथ ही इसको जड़ से ठीक कर सकते हैं। आगे हम आपको डॉक्टरों द्वारा कुछ दिए गए उपदेशों को बताने जा रहे है। जिससे आप अपने डायबिटीज लेबल को ठीक कर सकते गई।
1.हम जानते है। कि बहुत सारे डायबिटीज मरीज पूरी तरह दवाओं पे निर्भर होते है। जिसमे से कुछ उपयोगी दवाई से हमारा ग्लोकोज लेवल ठीक रहता है। इसलिए कुछ दवाको का सेवन भोजन के साथ या बाद में किया जाता है। इसके अलावा आपके डॉक्टर दवाई के जगह मधुसुधनी का इंजेक्शन भी लेने को कहते है।
• डायबिटीज के लिए एक किस्म की दवा जो आपके पाचन ग्रंथि को उत्तेजित करती है। इस दावा को आप भोजन के आधे घंटे बाद ले सकते है।
• डायबिटीज या मधुमय रोगियों के दवाओं का सेवन उनके ग्लोकोज लेवल पर भी निर्भर करती है।
• मधुमय रोगियों के लिए जो इंजेक्शन आती वह दिन में 5 से 6 घंटे की काम करती है। जो भोजन करने से 20 या 25 मिनट पहले ली जाती है।
2. हम सभी अपने भाग दौड़ के जिंदगी में हम डॉक्टरों द्वारा यही सलाह दी जाती है। की हम खाने के बाद कम से कम 30 मिनट तक टहलना चाहिए। जिससे हमारी पाचन क्रिया भी ठीक रहती है। और हम किसी प्रकार की बीमारियों का भी सामना नही करना पड़ता। आप कोशिश करें की हफ्ते में 5 दिन टहलें। टहलना हमारे शरीर के लिए उतना ही उपयोगी है। जितना हम जिम या स्विमिंग पूल जाना।
    अगर आप उपर बताए गए हर एक चीज को फॉलो करते है। अपने अंदर कभी भी डायबिटीज होने का खतरा मौजूद नही रहेगा। अगर आपके अंदर भी डायबिटीज है तो उपर बताए गए टर्म्स को फॉलो कर सकते है। जो आपके डायबिटीज लेबल को ठीक करने में मदत करेंगी।

2 thoughts on “डायबिटीज क्या है।डायबिटीज होने के लक्षण|डायबिटीज से बचने के सबसे अच्छा उपाय 2021”

Leave a Comment